हैदराबाद हुआ बारिश से बेहाल, कई इलाकों में भरा पानी, 7 की मौत

0
103
रिपोर्ट : अनीता गुलेरिया/संजय सिंह

दिल्ली : आंध्र प्रदेश के हैदराबाद में 2 अक्टूबर रात तेज तूफानी रफ्तार से बारिश के चलते हुए सैलाब जैसी स्थिति बन गई। घरों की छतें तक पानी से भर गई। भारी-भरकम पेड़ों के उखड़ने से हर जगह पानी का सैलाब उमड़ पड़ा। स्थिति बाढ़ जैसी बनने से आपातकालीन बैठक कर आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री बाबू चंद्रकुमार नायडू ने पूरे प्रदेश में हाई अलर्ट घोषित किया है। लोगों को घरों से बाहर न निकलने की चुनौती दी गई है। इस भारी-भरकम बाढ़ से हर जगह हड़कंप जैसी स्थिति पैदा हो गई है।

सूत्रों के अनुसार अक्टूबर और नवंबर के मध्य तक ऐसी स्थितियों से निपटने की चेतावनी मौसम विभाग द्वारा दी गई है। इस तूफानी बारिश की रफ्तार की गति को हर जगह अलग-अलग तरीकों से नापा गया है। राजेंद्र नगर में तूफानी बारिश की सबसे तेज गति 84 एमएम, आसिफ नगर में 69 एमएम, मलकपत मे 61 एमएम, मुशीराबाद में 56 एमएम, बेगमुपत मे 48 एमएम नापा गया है। इतनी तेज गति से तूफानी बारिश की रफ्तार से संसाधनों पर बुरा असर हुआ है। इस मूसलाधार बारिश से कई ट्रेनो, हवाई यात्राओं को रद्द कर दिया गया है।

शहर में सोमवार को अचानक हुई बारिश ने लोगों को बेहाल कर दिया। इसके चलते जहां कई इलाकों में पानी भर गया वहीं अलग-अलग जगहों पर कुल 7 लोगों की मौत हो गई। पानी भर जाने के चलते सड़क पर वाहन रेंगते नजर आए और जनजीवन अस्‍त व्‍यस्‍त हो गया है। इसके बाद प्रशासन ने मंगलवार को शहर के सभी स्‍कूलों व कॉलेजों को बंद कर दिया है।

हैदराबाद और तेलंगाना में तूफानी बारिश के चलते जहां एक इमारत गिर गई वहीं कई चीजों को नुकसान पहुंचा और फसलें तबाह हो गईं। नारायणखेड में बिजली गिरने से तीन लोगों की मौत हो गई। मरने वालों में दो महिलाएं और उनके बच्चे थे। बंजारा हिल्‍स पुलिस स्‍टेशन के एसएचओ के अनुसार, नींद में सोए हुए 35 वर्षीय यादुलु और उसके 8 माह के शिशु की मौत दीवार गिरने के कारण हुई। मलबे से शवों को निकालकर ऑटोप्‍सी के लिए भेज दिया गया सरकार ने हादसों में मरने वालों के परिवारों को 4 लाख का मुआवजा देने की घोषणा की है। कई इलाकों में पानी भरने के बाद इमरजेंसी रिस्पोंस टीम को तैनात किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.