फर्जी जमानतदारों के विरूद्ध की गयी बड़ी कार्यवाही, 11 फर्जी जमानतदारों के विरूद्ध अभियोग पंजीकृत, फर्जी अभिलेखों के आधार पर लेते थे जमानत

0
123

रिपोर्ट : ब्रिजेश कुमार

मीरजापुर : पुलिस अधीक्षक आशीष तिवारी के निर्देशन जनपद में अपराध एवं अपराधियों के विरूद्ध निरन्तर कार्यवाही करायी जा रही है। इसी क्रम में 6 जुलाई को फर्जी अभिलेखों के आधार पर जमानत लेने के अभ्यस्त 11 जमानतदारों के विरूद्ध भारतीय दण्ड विधान की विभिन्न धाराओं में अभियोग पंजीकृत किया गया, जो जनपद में विभिन्न शातिर किस्म के अपराधियों की जमानत फर्जी अभिलेखों के आधार पर लेने के अभ्यस्त हो चुके थे। अपराध नियन्त्रण एवं अपराधियों की धरपकड़ हेतु की जाने वाली कार्यवाही के क्रम में इन जमानतदारों को जब तस्दीक किया गया तो इनके द्वारा फर्जी कागजातों के आधार पर विभिन्न शातिर किस्म के अपराधियों की जमानत लिये जाने के सम्बन्ध में जानकारी प्राप्त हुई तथा प्रभारी निरीक्षक कोतवाली शहर अरूण कुमार यादव द्वारा इन अपराधियों के विरूद्ध थाना कोतवाली शहर में धारा 419, 420, 467, 468, 471 भादवि पंजीकृत किया गया।

पुलिस अधीक्षक के निर्देशन में प्रभारी निरीक्षक कोतवाली शहर द्वारा फर्जी जमानतदारों के विरूद्ध की गयी इस कार्यवाही से अन्य फर्जी जमानतदारों में भय व्याप्त हो गया है। प्रभारी निरीक्षक को0शहर द्वारा की गयी उक्त कार्यवाही में फर्जी अभिलेखों का प्रयोग कर जमानत लेने वाले जमानतदारों में महंगू उर्फ महंगू राम पुत्र हीरालाल हरिहरपुर पठानपट्टी थाना को0देहात, रामकिशुन पुत्र महादेव निवासी तरकापुर थाना को0शहर, लक्ष्मीनारायण पुत्र पप्पू निवासी जलालपुर बाहर थाना को0शहर, पन्ना लाल पुत्र झूरू उर्फ झूरी राम निवासी तरकापुर थाना को0शहर, मिश्री पुत्र पुरूषोत्तम निवासी अर्जुनपुर थाना को0देहात, राजकुमार पुत्र राम भींग निवासी नेवढ़िया घाट थाना को0देहात, कृष्ण कुमार पुत्र होनहार निवासी नुआँव थाना को0देहात, दधीचि पुत्र जयमूर्ति निवासी नेवढ़िया थाना को0देहात, रमेश पुत्र बेचन उर्फ बेचन लाल निवासी अर्जुनपुर थाना को0देहात, तारकेश्वर उर्फ कल्लू पुत्र बुझावन निवासी तरकापुर थाना को0शहर, मुन्ना पुत्र विश्वनाथ उर्फ विश्वास निवासी अर्जुनपुर थाना को0देहात के विरूद्ध थाना कोतवाली शहर में धारा 419, 420, 467, 468, 471 भादवि पंजीकृत किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.