मुख्यमन्त्री ने वर्चुअल क्लास रूम के माध्यम से किया रिक्रूट आरक्षी प्रशिक्षण सत्र का शुभारम्भ

0
18
  • फेसबुक के माध्यम से रिक्रूटों ने देखा लाईव प्रसारण, पुलिस अधीक्षक नगर ने दिये निर्देश
  • आरटीसी चुनार के वर्चुअल क्लास रूम एवं पुलिस लाईन के मनोरंजन कक्ष में की गयी व्यवस्था

मिर्जापुर : पुलिस अधीक्षक आशीष तिवारी के निर्देशन में पुलिस लाइन में प्रशिक्षण हेतु आगमन करने वाले रिक्रूटों को मुख्यमन्त्री द्वारा किये गये प्रशिक्षण सत्र शुभारम्भ का लाईव प्रसारण दिखाया गया। उक्त कार्यक्रम का प्रसारण उत्तर प्रदेश पुलिस द्वारा अपने फेसबुक हैण्डल के माध्यम से लाईव प्रसारित किया गया था। उक्त अवसर पर मुख्यमन्त्री एवं पुलिस महानिदेशक ने वर्चुअल क्लास रूम द्वारा लाईव प्रसारण के माध्यम से रिक्रूटों को सम्बोधित भी किया गया तथा पुलिस बल हेतु अनुशासन एवं समयबद्धता को आवश्यक बताया।

पुलिस अधीक्षक आशीष तिवारी के निर्देशन में जनपद में आगमन किये रिक्रूटों को उक्त कार्यक्रम का लाईव प्रसारण पुलिस लाइन के मनोरंजन कक्ष में किया गया। जिसमें कम्यूटर आपरेटर शशि झा ने फेसबुक के माध्यम से प्रोजेक्टर द्वारा रिक्रूटों को उद्घाटन कार्यक्रम का लाईव प्रसारण दिखाया तथा आरटीसी चुनार में रिक्रूटों हेतु बनाये गये वर्चुअल क्लास रूम में भी आरटीसी चुनार के रिक्रूटों को उक्त कार्यक्रम का लाईव प्रसारण दिखाया गया। कार्यक्रम समापन के उपरान्त पुलिस अधीक्षक नगर ने रिक्रूटों को सम्बोधित किया तथा मुख्यमन्त्री एवं पुलिस महानिदेशक के निर्देशों से रिक्रूटों को अवगत कराया।

उक्त अवसर पर पुलिस अधीक्षक नगर ने रिक्रूटों को उत्तर प्रदेश पुलिस सेवा में आगमन करने पर बधाई देते हुये स्वागत किया। रिक्रूटों को सम्बोधित करते हुये पुलिस अधीक्षक नगर ने कहा कि पुलिस विभाग एक अनुशासित संगठन है तथा इसमें समयबद्ध होना अनिवार्य है। पुलिस विभाग का कार्य अत्यन्त कठिन होता है जिसमें कठिन परिस्थितियों जैसे- बाढ़, सूखा, मारपीट, जाम की स्थिति में भी कार्य करना पड़ता है, जिसके लिये रिक्रूटों को प्रशिक्षण के दौरान इस प्रकार से ढाला जाता है कि वे विषम परिस्थितियों में भी कुशलता से अपने कार्य को पूर्ण कर सकें तथा इस दौरान उन्हें शारीरिक, मानसिक एवं व्यवसायिक रूप से प्रशिक्षित कर एक दक्ष पुलिसकर्मी बनाया जाता है।

पुलिसकर्मी को अनुशासन में रहना आवश्यक है तथा अनुशासन भंग करने पर दण्ड का भी प्राविधान है। अतः सभी रिक्रूट आरक्षी अनुशासन में रहकर समय से सभी कार्यों को करेंगे। उक्त अवसर पर प्रकाश स्वरूप पाण्डेय पुलिस अधीक्षक नगर, मुख्य आरक्षी (प्रशिक्षक) नीरज कुमार यादव, मुख्य आरक्षी (प्रशिक्षक) ओम प्रकाश, मुख्य आरक्षी (प्रशिक्षक) राम जनम लाल उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.