घरों में जल जमाव से निकलना हुआ दूभर, नही जले चूल्हे !

0
34

रिपोर्ट : शरद मिश्रा

मिर्जापुर : गुरुवार से रुक-रुक कर हो रही बारिस के पानी की निकासी न होने से दीपनगर कस्बा स्थित घरों में जल जमाव हो गया। परिणाम यह रहा कि कई घरों के चूल्हे नही जले। आरोप है कि बारिस के पानी की निकासी के लिए बनी नाली पर सरहंगों द्वारा अतिक्रमण कर लिया गया है। जिससे घरों का गंदा पानी सड़क पर बह रहा है। निकासी नाली पाट लिए जाने से बारिस का पानी संध्या दुबे के मकान में घुस गया। लोगों को भय है कि पानी निकासी की समुचित व्यवस्था नही की गयी तो घर मकान जद में आ सकते हैं।तहसील दिवस पर शिकायत के बावजूद अधिकारियों के कान पर जू तक नही रेंगा। किसी बड़ी घटना का इंतजार किया जा रहा है।

बताया जाता है कि सड़क के किनारे उनका मकान स्थित है। वही बगल में वर्षो से पानी निकलने वाली नाली स्थित था। किन्तु दबंग व्यक्तियों द्वारा नाली को पाटकर कब्जा कर लिया गया। जिससे बरसात का पानी बाहर निकलने के बजाय अगल-बगल के मकानों में सीधे घुस रहा है। जबकि कई बार इसकी शिकायत ग्रामीणों ने जिलाधिकारी अनुराग पटेल व उपजिलाधिकारी अतुल प्रकाश श्रीवास्तव तथा खण्ड विकास अधिकारी रहें आमिर राम व ग्राम विकास अधिकारी एवं ग्राम प्रधान से किया गया। किन्तु इन लोगों द्वारा सिर्फ आस्वासन ही मिलता रहा।

बरसात के पानी के निकलने हेतु नाली नहीं मिल सकी।जिससे बरसात के पानी घर में घुस जाने से जहाँ एक ओर लोग भयभीत बने हुये है, वही घर से बाहर निकलने में कमर तक पानी बना हुआ है। पानी अधिक होने से भय के कारण लोग अपने घर में ही कैद बने हुये है। वही शासन प्रशासन से गुहार लगाने के बावजूद योगि सरकार का कोई भी व्यक्ति मौके पर जाकर समस्या को देखना नहीं चाह रहा है, जिससे कि लोग अपने घर से बाहर निकल सकें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.