समाज का कोई वर्ग विकास कार्यों से अछूता न रहे : मंडलायुक्त मुरली मनोहर लाल

0
16

– ब्यूरो रिपोर्ट : खुलासच

मिर्जापुर : प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ की मंशा है कि सरकार द्वारा कराए जा रहे विकास कार्य समाज के हर वर्ग के अंतिम व्यक्ति तक पहुचे। इसके लिए सरकार पूरा प्रयास कर रही है कि समाज का कोई वर्ग विशेष कर गरीब विकास कार्यों से अछूता न रहे। यह बातें मंडलायुक्त मुरली मनोहर लाल द्वारा मुख्यमंत्री समग्र विकास योजना अन्तर्गत चयनित विकास खंड जमालपुर के राजस्व ग्राम पंचायत दादो में आयोजित चौपाल कार्यक्रम में कही। कीचड़ से सने लगभग 6 किमी के टूटे-फूटे रास्ते तय कर कार्यक्रम स्थल पहुचे मंडलायुक्त ने मातहतों को निर्देशित किया कि अतिशीघ्र गांव के मुख्य रास्ते जो कस्बे में आते हैं उन्हें सीसी रोड से निर्मित किया जाय साथ ही पानी निकासी के लिए नाली बनाने का भी निर्देश दिया।

चौपाल कार्यक्रम में पहुचे विभिन्न विभागों के अधिकारियों द्वारा मंडलायुक्त के समक्ष विकास कार्यों का ब्यौरा प्रस्तुत किया। जिसमें लोक निर्माण विभाग द्वारा 39.25 लाख रुपये से सडक निर्माण, चौका विछाने व पटरियों को दुरूस्त करने की प्रस्तावित योजना का ब्यौरा प्रस्तुत किया गया। ग्रामीण विद्युतीकरण योजना के तहत विद्युत महकमे द्वारा बताया गया कि 10 केवीए के दस ट्रांसफार्मर व 25 केवीए का एक ट्रांसफार्मर गांव में पहले से ही लगा दिया गया है। इसके साथ ही सौभाग्य योजना के तहत 94 लोगों को निशुल्क विद्युत कनेक्शन दिया जा चुका है। इसके उपरांत कराये गये सर्वे के मुताबिक 16 केवीए के 2 ट्रांसफार्मर गांव में लगाया जाना प्रस्तावित है और 25 लोग सौभाग्य योजना के तहत विद्युत कनेक्शन दिये जाने के लिए चयनित किये गये हैं।

पंचायत राज व आरइडी महकमे द्वारा नाली निर्माण चौका बिछाने का का कार्य प्रस्तावित है का ब्यौरा प्रस्तुत किया गया। एडीओ पंचायत ने अपने महकमे के कार्यो का ब्यौरा प्रस्तुत करते हुए बताया गया है गांव में 56 शौचालय बनाया जा चुका है, साथ ही 131 शौचालय के निर्माण का कार्य शासन को प्रस्तावित कर भेजा गया है। स्वच्छ पेयजल आपूर्ति के तहत बताया गया है गांव में पेयजलापूर्ति के लिए कुल 14 हैंडपंप लगाये गये हैं। जिसमें से 13 वर्तमान में काम कर रहे हैं। इस दौरान हैंडपंप को लेकर विभाग द्वारा किए जा रहे दावों को ग्रामीणों ने खारिज कर दिया तो मंडलायुक्त द्वारा बीडीओ जमालपुर को जांच का निर्देश जारी किया।

प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री आवास के तहत बताया गया कि कुल 30 आवास आवंटित किए गए हैं। जिनमें 27 बन गए हैं और 3 पैसा लेकर आधा अधूरा कार्य किए हैं। जिसपर सीडीओ प्रियंका निरंजन ने संबंधित महकमे के जिम्मेदार कर्मचारियों को फटकार लगाई और कहा कि शीघ्र ही आवास का कार्य पूरा करवाये अन्यथा कार्यवाही की जाएगी। वही मुख्यमंत्री आवास योजना के तहत मुसहर जाति के 30 पात्रों का चयन कर प्रस्ताव शासन के पास भेजे जाने की बात बतायी गयी। मुख्यमंत्री आवास के बावत जानकारी देते हुए परियोजना निदेशक ने बताया कि आवास के अतिरिक्त शौचालय मनरेगा द्वारा मुसहरो के लिए बनाया जाना प्रस्तावित है। इसके अतिरिक्त प्राथमिक शिक्षा माध्यमिक शिक्षा की प्रस्तुति बीएसए द्वारा आंगनबाड़ी, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन आयुष्मान भारत व डेयरी प्रसंस्करण आदि कार्यों के बारे में विस्तार से बताया गया। कार्यक्रम में मौजूद रहने वालों में सीडीओ प्रियंका निरंजन, ज्वाइंट डेवलपमेंट कमिश्नर राजीव बनकटा, परियोजना निदेशक रीषिमुनि उपाध्याय, जिला विकास अधिकारी अजितेन्द्र नारायन मिश्रा, उपायुक्त मनरेगा मो नफीस, डीसी राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन दीनदयाल, एसडीएम चुनार सीपी सिंह, डीएम आलोक कुमार सिंह, जिला पूर्ति अधिकारी उमेश चन्द्र व संभागीय खाद्य नियंत्रक कार्यक्रम में मौजूद रहे, संचालन डीडीओ अजितेन्द्र नारायण मिश्र ने किया। इससे पूर्व मंडलायुक्त द्वारा गांव पहुचने पर वृक्षारोपण कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.